ललितपुर नगर पालिका परिषद के बारे में

नगर पालिका एक शहरी स्थानीय निकाय है जो 1,00,000 या उससे अधिक जनसंख्या वाले शहरों में प्रशासन करती है, हालाँकि इसमें कुछ अपवाद हैं जैसे की पहले नगर पालिका 20,000 से अधिक आबादी वाले शहरी केंद्रों में गठन किया जाता था तो नगरीय निकाय जो पहले नगर पालिका के रूप में वर्गीकृत किए गए थे वह नगर पालिका के रूप में पुनर्वर्गीकृत किये गए भले ही उनकी जनसंख्या 100,000 से कम थी। पंचायती राज व्यवस्था के तहत, नगर पालिका राज्य सरकार के साथ सीधे संपर्क रखतें है, हालांकि यह प्रशासकीय हिस्सा होते हैं उस जिले का जिसमें यह स्थित हैं। आम तौर पर छोटे जिले के शहर और बड़े कस्बों में नगर पालिका होती है।

नगर पालिका के सदस्य पांच साल की अवधि के लिए निर्वाचित प्रतिनिधि होते हैं। शहर अपनी जनसंख्या के अनुसार विभिन्न वार्डों में विभाजित किया गया है और प्रत्येक वार्ड के लिए प्रतिनिधि चुने जातें हैं। समस्त सदस्य आपसी सहमति से अध्यक्षता करने और बैठकों का संचालन करने के लिए एक अध्यक्ष का चुनाव करते हैं। नगर पालिका के प्रशासनिक मामलों को नियंत्रित करने के लिए एक मुख्य अधिकारी, राज्य लोक सेवा से आए एक इंजीनियर, सफ़ाई निरीक्षक, स्वास्थ्य अधिकारी और शिक्षा अधिकारी जैसे अधिकारीयों की नियुक्ति राज्य सरकार द्वारा की जाती है।